संभव है कि होम पेज खोलने पर इस ब्लॉग में किसी किसी पोस्ट में आपको प्लेयर नहीं दिखे, आप पोस्ट के शीर्षक पर क्लिक करें, अब आपको प्लेयर भी दिखने लगेगा, धन्यवाद।

Saturday 23 July 2011

घर यहाँ बसाने आए थे, हम घर ही छोड चले

लताजी ने हजारों गीत गाए, लेकिन आज भी कई गीत हैं जो दुर्लभ से हैं। मैने अपनी पिछली पोस्ट्स में कई बार यथा संभव कोशिश की है कि लता जी के उन दुर्लभ गीतों को महफिल में पोस्ट करूं कि जिन लोगों ने इन्हें नहीं सुना है वे भी लताजी के उन सुमधुर गीतों को सुन कर आनंदित हो सकें। इस श्रेणी में महफिल में आज कई दिनों के बाद लता जी का एक और दुर्लभ गीत।
यह गीत फिल्म गजरे (Gajare 1948) का है। इस गीत को संगीतबद्ध किया है मेरे सबसे पसंदीदा संगीतकारों में से एक अनिल विश्वाjस (अनिलदा) ने। और गीत को लिखा है जी एस नेपाली यानि गोपाल सिंह नेपाली ने। गजरे फिल्म में मुख्य भूमिकाएं सुरैया और मोतीलाल ने निभाई हैं।

घर यहाँ बसाने आए थे
हम घर ही छोड़ चले
अपना था जिन्हें समझा हमने, वो भी दिल तोड़ चले

सोचा था सजन आएँगे आएँगे बहारे लाएँगे
हम एक चमन के दो पंछी बन जाएँगे -2
संध्या की बेला द्वार पे आ कर वो मुँह मोड़ चले
घर यहाँ बसाने आए थे….

जीवन में कभी इक प्यार का दीपक जलता था

मिलने के लिए दिल घुल-घुल के मचलता था -2
जब साथ पतंगा छोड़ दियाऽऽऽऽऽऽ तो दिया अकेले जले
घर यहाँ बसाने आए थे
Download Link

5 टिप्पणियाँ/Coments:

प्रवीण पाण्डेय said... Best Blogger Tips[Reply to comment]Best Blogger Templates

बहुत ही सुरीला गीत।

daanish said... Best Blogger Tips[Reply to comment]Best Blogger Templates

लता जी की आवाज़ में यह नायाब गीत सुन कर
बहुत अच्छा लगा.... लता जी की शुरूआती दिनों की
आवाज़ में एक अलग ही तरह की कशिश थी
जो सिर्फ महसूस की जा सकती है
कास्ट में आपने सुरैया का नाम दिया है ..
क्या यह गीत उन्हीं पर फिल्माया गया था !?!
और ... अनिल बिस्वास के अमर संगीत सुन कर
कौन ऐसा होगा भला,, जिसे सुकून ना मिलता हो
मुझे लगता है यह धुन उन्होंने बाद में प्रेम धवन के लिखे
एक गीत के लिए भी ( कुछ-कुछ ) इस्तेमाल की थी
आपको भी याद आ रहा होगा ...
"सीने में सुलगते हैं अरमाँ..."


'daanish'

गरिमा said... Best Blogger Tips[Reply to comment]Best Blogger Templates

Simply superb

Archana said... Best Blogger Tips[Reply to comment]Best Blogger Templates

बहुत मधुर ...आभार

ZEAL said... Best Blogger Tips[Reply to comment]Best Blogger Templates

इंसान के दिलों में प्यार जैसा कुछ है , ये तो सिर्फ इन मधुर गीतों को सुनकर ही महसूस होता है।

Post a Comment

आपकी टिप्प्णीयां हमारा हौसला अफजाई करती है अत: आपसे अनुरोध करते हैं कि यहाँ टिप्प्णीयाँ लिखकर हमें प्रोत्साहित करें।

Blog Widget by LinkWithin

गीतों की महफिल ©Template Blogger Green by Dicas Blogger.

TOPO